Like and share
0

national child award
नई दिल्ली.
देश में एेसे बच्चे जिन्होंने किसी क्षेत्र में असाधारण कार्य किया हो और उससे देश का समाज का भला हुआ हो. एेसे ही बच्चों को राष्ष्ट्रीय बाल असाधारण अपलब्धि पुरस्कार भारत सरकार द्वारा दिया जाता है.
राष्ट्रीय बाल असाधारण उपलब्धि पुरस्कार बाल विकास एवं कल्याण के क्षेत्र में असाधारण कार्य करने वाले संगठनों और बच्चों को दिया जाता है. अकादमिक, कला, संस्कृति, खेल आदि के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने वाले स्टूडेंट्स को यह पुरस्कार दिया जाता है. पुरस्कार के लिए बच्चो की उम्र 5 साल से 18 साल तक होनी चाहिए.
कैनरा बैंक को चाहिए स्पेशलिस्ट ऑफिसर, करें आवेदन
ऐसे करें आवेदन
आवेदन करने के लिए स्टूडेंट्स को मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. जहां पर आवेदन करने का प्रारूप दिया गया है. इसमें बच्चे का पूरा विवरण और पता लिखना होगा, साथ ही बच्चे के असाधारण कार्य के बारे में बताना होगा.
आवेदन करने के लिए राज्य विभागों या केंद्र सरकार के विभाग , जिला प्राधिकरण, स्थानीय निकाय,विशेषज्ञ, सांसद, विधायक, प्रतिष्ठित संगठन , इनें से किसी की तरफ से आवेदन पत्र की अनुशंसा जरूरी है. महिला एंव बाल विकास मंत्रालय द्वारा बनाई गई चयन कमेटी इसका निर्णय करेगी.

पुरस्कार
गोल्ड मेडल- यह अखिल भारतीय स्तर पर एक बच्चे को मिलता है. इसमें बच्चे को 20 हजार रूपए, सर्टिफिकेट और एक गोल्ड मेडल दिया जाता है.
सिल्वर मेडल-हर राज्य से एक बच्चे को यह पदक मिलता है. इसमें हर विजेता बच्चे को दस हजार रूपए , सर्टिफिकेट और सिल्वर मेडल मिलते हैं. हर साल 14 नवंबर को यह पुरस्कार दिए जाते है.
आईआईटी रुड़की ने घोषित किया गेट का रिजल्ट
वेबसाइट-डब्लूसीडी.एनआईसी.आईएन/अवार्ड
ये भी पढ़ें:
नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी दिल्ली में एडमिशन के लिए 15 तक करें आवेदन
आईएएस और आईपीएस अधिकारियो की कमी से जूझ रहा देश
एमपीपीएससी ने बढ़ाईं 147 सीटें, कटऑफ होगा कम

Like and share
0