Like and share
1

General category students get reservation in neet, NEET update, theinterview.in

नई दिल्ली.
देश में मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित की जाने वाले नीट एग्जाम के आरक्षण नियमों में बदलाव किया गया है. जिसके चलते अब सामान्य मेरिट में आरक्षण लागू नहीं होगा. सामान्य मेरिट में आरक्षित वर्ग के अभ्यार्थियों को जगह नहीं मिलेगी. इसका फायदा कम अंक पाने वाल सामान्य वर्ग के अभ्यार्थियों को अप्रत्यक्ष रुप से होगा. इसमें सामान्य वर्ग के अभ्यार्थियों को ठीक वैसे ही लाभ मिलेगा जैसा कि आरक्षित श्रेणियों को मिलता है.

इस बार नीट में ऑल इंडिया कोटे में दो नई अनारक्षित कैटेगरी बनाई गई हैं. इस श्रेणी में सामान्य के साथ ही ओबीसी की क्रीमी लेयर और केन्द्र सरकार की ओबीसी लिस्ट में न आने वाले अभ्यार्थी आएंगे. इस बार नई सीबीएसई नीट इंफॉरमेशन बुलेटिन में काउंसलिंग के दौरान ऐसे अभ्यार्थी को कोटा दर्शनाने के लिए कहा गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव सीके मिश्रा के अनुसार रिजर्व कैटेगरी व अनरिजर्व कैटेगरी की अगल अलग काउंसलिंग होगी.

सामान्य वर्ग के कैंडीडेट्स को होगा फायदा

सामान्य श्रेणी की मेरिट में अन्य कैटेगरी के अभ्यार्थी भी शामिल हो जाते थे जिसके कारण सामान्य वर्ग के अभ्यार्थियों को नुकसान उठाना पड़ता था. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. मतबल यह है कि अच्छा प्रदर्शन करने वाले पिछड़ी जाति. अनुसूचित जाति-जनजाति के अभ्यार्थी सामान्य मेरिट में जगह नहीं बना पाएंगे. उन्हें उनकी कैटेगरी के अनुसार तैयार मैरिट लिस्ट में ही जगह मिलेगी.

ठीक इसी तरह सामान्य जाति के ऐसे अभ्यार्थी जो अच्छा प्रदेशन न करने के कारण मेरिट मे काफी पीछे है उन्हें भी नई अनरिजर्व्ड कैटेगरी में ही जगह मिलने से वैसा ही लाभ मिलेगा जैसा कि आरक्षित श्रेणियों को मिलता है.

ये भी पढ़ें:

GST लागू होने के साथ ही बदल जायेगा सीए का सिलेबस

NEET 2017: जानें रजिस्ट्रेशन से लेकर एडमिशन तक की पूरी प्रोसेस

NEET से होगा आयुर्वेद, यूनानी और होम्यापैथी में एडमिशन

Like and share
1